fbpx
Skip to content
Importance of Sandhya,Timings and Benefits

Trikal Sandhya: Importance, Timings, Benefits (Fayde), Shlok

सामान्य दृष्टि से सन्ध्या माने दो समयों का मिलन और तात्विक दृष्टि से सन्ध्या का अर्थ है जीवात्मा और परमात्मा का मिलन । ‘सन्ध्या’ जीव को स्मरण कराती है उस
Read More
Biological Clock

जैविक घड़ी पर आधारित दिनचर्या | Biological Clock of Human Body in Hindi

  Biological Clock (जैविक घड़ी) of Human Body  ● प्रातः ३ से ५ – ( जीवनी शक्ति विशेषरूप से फेफ़डों में होती है )थोड़ा गुनगुना पानी पीकर खुली हवा में
Read More
yog nidra

बापू जी ने नींद को योगनिद्रा बनाना सिखाया [Yoga Nidra For Sleep]

पूज्य बापू जी ने सोने की सुंदर कला सिखाते हुए बताया है – “रात को थके-मांदे होकर भरे बोरे की नाँईं बिस्तर पर मत गिरो। सोते समय बिस्तर पर ईश्वर
Read More
yog nidra

योगनिद्रा बनाने की कला [How to do Yoga Nidra for Depression and Anxiety]

योग निद्रा – रात्रि शयन को परमात्मप्राप्ति का साधन बनाने की क्रिया को योग निद्रा कहा जाता है। रात को थके-मांदे होकर भरे बोरे की नाँईं बिस्तर पर मत गिरो।
Read More
ideal routine

आदर्श-दिनचर्या | Ideal Routine in hindi

अभिवादनशीलस्य नित्यं वृद्धोपसेविनः। चत्वारि तस्य वर्धन्ते आयुर्विद्या यशोबलम्।। “जो व्यक्ति माता-पिता एवं गुरूजनों को प्रणाम करते हैं और उनकी सेवा करते हैं उनकी आयु, विद्या, यश तथा बल – चार
Read More
Bhojan

खड़े होकर भोजन : राक्षसी भोजन पद्धति | Asatvik Bhojan

आजकल सभी जगह शादी-पार्टियों में खड़े होकर भोजन करने का रिवाज चल पडा है लेकिन हमारे शास्त्र कहते हैं कि हमें नीचे बैठकर ही भोजन करना चाहिए । खड़े होकर
Read More

अच्छे बालक की पहचान | Hindi kavita [Poem] on life

अच्छे बालक की पहचान, बतलाते सद्गुरु भगवान । सुबह ब्राह्ममुहूर्त में उठता, करता परमात्मा का ध्यान । करदर्शन कर,धरती माँ के, नित करता चरणों में प्रणाम। नित्य क्रिया से निवृत्त
Read More