khajoor-ke-labh
खजूर खाओ, स्वास्थ्य पाओ
खजूर खाओ, स्वास्थ्य पाओ । खजूर मधुर,पौष्टिक व सेवन करने के बाद तुरंत शक्ति स्फूर्ति देनेवाला है। यह त्रिदोषशामक है तथा मल व मूत्र को साफ लाता है। इसमें कार्बोहाइड्रेट्स, प्रोटीन, कैल्शियम, पोटैशियम, मैग्नेशियम, फॉस्फोरस, लौह आदि प्रचुर मात्रा में पाये जाते हैं। इसके सेवन से मस्तिष्क व हृदय की मासपेशियों को ताकत मिलती है। खजूर रक्त को बढ़ाता है और यकृत (liver) के रोगों में लाभकारी है। ३ से
बच्चे का मन पढ़ाई में न लगे तो क्या करें ?
यदि आपके बच्चे पढ़ाई में ध्यान न देते हों, आलसी अथवा चंचल हों और आप चाहते हैं कि वे पढ़ाई में ध्यान दें तो क्या करें ??? डाँटने,फटकारने,मारने से काम नहीं चलेगा। बेटे,बेटी को ज्यादा डांटे-फटकारें तो वे सोचते हैं कि ‘ये तो मुझे डाँटते ही रहते हैं!’ इसके लिए एक छोटा-सा प्रयोग है :अशोक वृक्ष के तीन-तीन पत्तों से चित्रानुसार बंदनवार (तोरण) बनाकर बच्चे के कमरे के दरवाजे की
मस्तिष्क शक्तिवर्धक प्रयोग
6 से 10 काली मिर्च, 2 बादाम, 2 छोटी इलायची, 1 गुलाब का फूल व आधा चम्मच खसखस रात को एक कुल्हड़ में पानी में भिगोकर रखें। सुबह बादाम के छिलके उतारकर सबको मिलाकर पीस लें व गर्म दूध के साथ मिश्री मिलाकर पीएं । इसके बाद 2 घंटे तक कुछ न खायें। इससे मस्तिष्क की थकान दूर होकर तरावट आती है एवं शक्ति बढ़ती है । यह प्रयोग 2-3
तुलसी खाओ, स्मरण शक्ति बढ़ाओ !
सुबह खाली पेट में 5 पत्ते तुलसी के खाना :-1) – तुलसी के पत्ते सूर्योदय के पश्चात ही तोड़ें और खाएं।2) – तुलसी के पत्ते खाने के 1 घंटे बाद ही दूध पीयें।3)- तुलसी के पत्ते दाँतो में न अटकें इसलिए कुल्ला करते हुए पानी पी लें।4) – तुलसी से स्मरण शक्ति बढ़ती ही है, साथ ही कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी तथा अन्य लगभग 800 बीमारियां भी दूर होती हैं।
प्रातः पानी प्रयोग [Drinking Warm water in morning]
प्रातः सूर्योदय से पूर्व उठकर, मुँह धोये बिना, मंजन या दातुन करने से पूर्व हर रोज करीब सवा लीटर (चार बड़े गिलास) रात्रि का रखा हुआ पानी पीयें। उसके बाद 45 मिनट तक कुछ भी खायें-पीयें नहीं। पानी पीने के बाद मुँह धो सकते हैं, दातुन कर सकते हैं। जब यह प्रयोग चलता हो उन दिनों में नाश्ता या भोजन के दो घण्टे के बाद ही पानी पीयें। प्रातः पानी