fbpx
Skip to content
shivaji maharaj jayanti
शिवाजी का साहस | Bal Shivaji Maharaj childhood Story
[Childhood Story of Chtrapati Shivaji Maharaj] 12 वर्षीय शिवाजी (Shivaji) एक दिन बीजापुर के मुख्य मार्ग पर घूम रहे थे। वहाँ उन्होंने देखा कि एक कसाई गाय को खींचकर ले जा रहा है। गाय आगे नहीं जा रही थी किंतु कसाई उसे डंडे मार-मार कर जबरदस्ती घसीट रहा था। शिवाजी से यह दृश्य देखा न गया। बालक शिवाजी (Balak Shivaji) ने म्यान से तलवार निकाली और कसाई के पास पहुँच
Read More
kisko banayein apna adarsh
किसको बनायें अपना आदर्श [Youth’s Legend /Inspirational Person]
Kisko Banayein Apna Aadarsh — Who Should be Youth’s Legend Or Inspirational Person for Youth of India in Hindi : इस प्रसंग द्वारा बच्चों को समझा सकते हैं कि “हमें अपना आदर्श फिल्मी कलाकारों को नहीं वरन संतों-महापुरुषों को बनाना चाहिए”  बच्चों, युवाओं,  विद्यार्थियों को पूज्यश्री के बचपन का यह गुण बिल्कुल सीखने जैसा है कि पूज्यश्री ने संतों-महापुरुषों को अपना आदर्श बनाने पर संतत्व, महापुरुषत्व मिलता है न कि
Read More
satya ka palan kar banein mahan
A Childhood Story of Gopal Krishna Gokhale in Hindi [Biography]
गुरु-सन्देश- प्यारे विद्यार्थियों ! तुम भावी भारत के भाग्य-विधाता हो ।अतः अभी से अपने जीवन में सत्यपालन,ईमानदारी, संयम,सदाचार,न्यायप्रियता आदि गुणों को अपनाकर अपना जीवन महान बनाओ । एक विद्यालय के शिक्षक ने एक दिन कक्षा के सभी छात्रों को गणित के कुछ सवाल घर से हल करके लाने को कहा। सभी छात्रों ने घर में किसी-न-किसी की सहायता से सवाल हल किये,लेकिन उनमें से एक लड़के ने सभी सवाल स्वयं
Read More
चैतन्य महाप्रभु का दिव्य प्रमोनमाद – Jagannath Puri Rath Yatra
Chaitanya Mahaprabhu Jagannath Puri Rath Yatra (भगवान जगन्नाथ रथयात्रा : २३ जून ) १७-१८ वर्षीय निमाई भगवान जगन्नाथ के दर्शन करने हेतु एक बार अकेले ही चले गए । जगन्नाथजी के दर्शन करते-करते निमाई का मन बदल गया, आँखें स्थिर हो गयीं एवं मन केन्द्रित हो गया। इतने में वे क्या देखते हैं कि जगन्नाथजी की प्रतिमा में से एक नन्हा-सा, सुकुमार बालक उनको निहारते हुए बोल रहा है :”हे
Read More
Surya Grahan Kyu Hota hai – An Interesting Story in Hindi
Surya Grahan June 2020 Special Story. Surya Grahan Kyu Hota hai – An Interesting Story in Hindi: एक राजा बड़ा सनकी था। एक बार सूर्यग्रहण हुआ तो उसने राजपंडितों से पूछा : “सूर्यग्रहण क्यों होता है?” पंडित बोले :”राहु के सूर्य को ग्रसने से।” “राहु क्यों और कैसे ग्रसता है? बाद में सूर्य कैसे छूटता है?” जब उसे इन प्रश्नों के संतोषजनक उत्तर नहीं मिले तो उसने आदेश दिया :”हम
Read More

Categories

open all | close all